एक अहेम अमल की फजीलत हाजी से मुलाकात करना

0
97
Ek ahem Amal ki fazilat haji se mulakat karna
Child in makkah
Islamic Palace App

Ek ahem Amal ki fazilat haji se mulakat karna

एक अहेम अमल की फजीलत हाजी से मुलाकात करना

रसूलुल्लाह (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) ने फरमाया:

जब किसी हाजी से मुलाकात हो, तो उस को सलाम करो और उस से मुसाफ़ा करो

और उस से घर में दाखिल होने से पहले अपने लिए दुआए मग़फ़िरत कि दरख्वास्त करो

क्योंकि वह अपने गुनाहों से पाक व साफ़ हो कर आया है। ”

(सिर्फ पांच मिनट का मदरसा, सफ़ा न० 719)

Follow Us

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया

LEAVE A REPLY