रोज़े की हालत में भी झूट और दग़ाबाज़ी से बचे

1
96
Roze Ki Halat Me Bhi Jhoot Aur Dagabazi Se Bachey
Ramzan
Islamic Palace App

Roze Ki Halat Me Bhi Jhoot Aur Dagabazi Se Bachey

रोज़े की हालत में भी झूट और दग़ाबाज़ी से बचे

मफ़हूम- ए-हदीस: अबू हुरैरह (रज़िअल्लाहु अन्हु) से रिवायत है की,

रसूल’अल्लाह (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) ने फ़रमाया –

“अगर कोई शख्स (रोज़ा रखकर भी) झूट बोलना और दग़ाबाज़ी करना न चोरी

तो अल्लाह सुब्हानहु तआला को उसकी कोई जरुरत नहीं की वो अपना खाना पीना छोड़ दे।

(सहीह बुखारी,भाग 3, 1903)

For More Msgs Click This Link
www.islamicpalace.in

बराये करम इस पैग़ाम को शेयर कीजिये अल्लाह आपको इसका अजर-ए-अज़ीम ज़रूर देगा
आमीन

►जज़ाकअल्लाह खैरन◄

PLEASE SHARE

Follow us

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)।

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया

1 COMMENT

LEAVE A REPLY