एक सुन्नत के बारे में सफर से वापसी की सुन्नत तरीका

0
105
Sunnah way of returning from journey in Islam
Islamic Palace App

Sunnah way of returning from journey in Islam

After coming back from the journey Rasoolullah Sallallahu alaihi wasallam

went to the mosque and offered two raktas prayers

for used to visit people (After that he goes home).

(Abu Dawood: 2773 Un Cain Bin Bin Sallallahu Alaihi Wahellam)

Click here to like our Facebook page …

Thank you very much for all of you to like ISLAMIC PALACE. If you do not like it, then, to get rid of all the important issues related to this kind of oppression and Islam, definitely, please attach to this page the Islamic Palace, and send as many people as possible through share. thank you


Hindi Translation

एक सुन्नत के बारे में सफर से वापसी की सुन्नत तरीका

रसूलुल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम सफर से वापस आने के बाद पहले मस्जिद जा कर दो रकात नमाज़ अदा करते,

और लोगों से मुलाक़ात फरमाते (उस के बाद घर तशरीफ़ ले जाते|)

(अबू दाऊद: 2773 अन कअब बिन मालिक सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम)

(सिर्फ पाँच मिनट का मद्रसा, साफ़ न०4)

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया


Sunnah way of returning from journey in Islam

Share This

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.