सातों आसमान के फरिश्तों के नाम और काम जानिए

0
3232
Saton Asman Ke Farishton ke Naam Or Kaam
farishte aasman
Islamic Palace App

Click here to Install Islamic Palace Android App Now

Saton Asman Ke Farishton ke Naam Or Kaam

सातों आसमान के फरिश्तों के नाम और काम

पहले आसमान के फ़रिश्ते का नाम इस्माईल है:
इस फ़रिश्ते के मातहत बारह हज़ार फ़रिश्ते हैं जो हर वक़्त हालते क़्याम में मशग़ूले इबादत हैं।

दूसरे आसमान के फ़रिश्ते:
इस फ़रिश्ते का नाम इस्राफील है इसके मातहत तीन लाख फरिश्ते हैं
और हर फरिश्ते के मातहत तीन लाख फरिश्ते हैं जो हालते रुकूअ में इबादत में मशग़ूले हैं।

तीसरे आसामन के फरिश्ते:
इस फरिश्ते का नाम सरहाईल हैं। इस फरिश्ते के मातहत चार लाख फरिश्ते हैं
और हर फरिश्ते के मातहत चार लाख फरिश्ते हैं जो हम वक़्त हालत सुजूद में मशग़ूले हैं।

चौथे आसमान के फरिश्ते:
इस फरिश्ते का नाम मोमनाईल है। उसके मातहत चार लाख फरिश्ते हैं
और हर फरिश्ते के मातहत फरिश्ते हैं। जो हमा वक़्त कअदे में मशग़ूले इबादत है।

पांचवें आसमान के फरिश्ते:
इस फरिश्ते का नाम सक्ताईल है। इस फरिश्ते के मातहत पाँच लाख फरिश्ते हैं
और हर फरिश्ते के मतहत पाँच लाख फरिश्ते हैं जो हमा वक़्त तस्बीह व तहलील में मशग़ूले इबादत हैं।

छठे आसमान के फरिश्ते:
इस फ़रिश्ते का नाम रुआईल है। इसके मातहत छे: लाख फ़रिश्ते हैं
और हर फ़रिश्ते के मातहत छे: लाख फ़रिश्ते हैं जो हमा वक़्त मशरुफे इबादत हैं।

सातवें आसमान के फ़रिश्ते:
इस फ़रिश्ते का नाम रूहाईल है। इसके मातहत सात लाख फ़रिश्ते हैं
और हर फ़रिश्ते के मातहत सात लाख फ़रिश्ते हैं जो हर वक़्त हम्द व सना पढ़ते रहते हैं

(तारीख़े आलम सफ़ा न०38)

Follow Us

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.