जब (भूलकर) पांच रकअत पढ़ ले तो क्या किया जाये।

0
93
Jab Bhul Kar Panch Rakat Rakat Padh Lein
Sajda
Islamic Palace App

Jab Bhul Kar Panch Rakat Rakat Padh Lein

जब (भूलकर) पांच रकअत पढ़ ले|

अब्दुल्लाह बिन मसऊद रज़ि. से रिवायत है कि रसूलुल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि व सल्ल्म ने एक बार जुहर की पांच रकअतें पढ़ीं।

कहा गया कि नमाज़ में कुछ बढ़ा दिया गया है? आपने फरमाया वह क्या?

कहा गया कि अपने पांच रकअतें पढ़ी हैं तो अपने सलाम फेरने के बाद दो सजदे सहू किये।

फायदे :

इमाम बुखारी का मकसद यह है कि अगर नमाज़ में कमी हो जाये तो सलाम से पहले सजदे सहू किये जायें

और अगर कुछ बढ़त हो जाये तो सलाम के बाद सजदे सहू किये जाये,

लेकिन इस सिलसिले में इमाम अहमद का मसला ज़्यादा बेहतर मालूम होता है कि

हर हदीस को उस की जगह में इस्तेमाल किया जाये

और जिस भूल की सूरत में कोई हदीस नहीं आये, वहां सलाम से पहले सजदा सहू किया जाये।

(औनुलबारी, 2/250)

Follow Us

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.