घर में जाने की सुन्नतें व आदाब जानिए कौन-कौनसी हैं

0
156
Tawaf-e-ziyarat Ka Tareeqa Kya Hai?
KHANE KABA
Islamic Palace App

Ghar mein jane ki sunnatein or adab

Ghar mein jane ki sunnatein or adab

घर में जाने की सुन्नतें व आदाब:

अगर किसी के घर गये तो दाखिल होने से पहले सलाम करे बाहर से हरगिज़ न झाके। जब तक अन्दर से जवाब न आए हरगिज़ हरगिज़ न जाए।

  1. अगर पूछा जाए कि कौन है तो अपना नाम बताए सिर्फ में हूँ न कहे। अगर दाख़िले की इज़ाज़त मिली तो ठीक वरना बखुशी वापस लौट जाए कि हो सकता है
    किसी मजबूरी की वजह से इजाजत न दी हो।
  2. अगर दरवाज़े पर पर्दा पड़ा हो तो हट कर खड़ा हो।
  3. किसी के घर गये तो तक झांक न करें।
  4. किसी कमी या ज़्यादती पर तन्क़ीद न करे।
  5. अगर किसी के यहां जाए तो कुछ न कुछ तोहफा साथ ले जाए। सा ही क्यों न हो खा पी ले कि मेज़बानी की दिल अज़ारी न हो।
  6. वापसी के वक्त अहले खाना के हक़ में दुआ करे और शुक्रिया भी अदा करे।
  7. अगर मेज़बानी या मेहमान नवाजी में कोताही हो जाए तो पर्दा पोशी करे फ़ौरन तन्क़ीद न करे।
  8. अपने घर जाते हुए भी और आते हुए भी सलाम करे अगर अपने मकान में दाखिल हो और आते हुए भी सलाम करे अगर अपने मकान में दाखिल हो घर में कोई न हो तो भी सलाम करे क्योंकि घर में भी रहमत के फ़रिश्ते होते हैं अगर घर में किसी जानदार तस्वीर न हो हमारे आक़ा हर आशिक़ के घर तशरीफ़ रखते हैं और वह सलाम का जवाब भी देते हैं।

(तारीख़े आलम सफ़ा न० 390)

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.