नमाज़ की तकबीर के बाद फ़र्ज़ नमाज़ के अलावा कोई नमाज़ पढ़ना सही है या नहीं

1
604
Reshmi Caot mein namaz padhna or fir use utar dena
Namaz
Islamic Palace App

Namaz ki Takbeer ke Baad farz Namaz Ke Alawa koi Namaz Nahi padhna chahiye

Namaz ki Takbeer ke Baad farz Namaz Ke Alawa koi Namaz Nahi padhna chahiye

नमाज़ की तकबीर के बाद फ़र्ज़ नमाज़ के अलावा कोई नमाज़ नहीं पढ़ना चाहिए।

अब्दुल्लाह बिन मालिक बिन बुहैना रज़ि. से रिवायत है कि रसुलुल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने एक आदमी को दो रकअत नमाज़ पढ़ते देखा, जबकि नमाज़ की तकबीर हों चुकी थी।
जब रसुलुल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम नमाज़ से फारिग हुए तो लोगों ने उस आदमी को घेर लिया तो तब रसुलुल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने उस आदमी से फ़रमाया, क्या सुबह की चार रकअतें हैं ?
फायदे: यह उनवान बजाये खुद एक हदीस है, जिसे इमाम मुस्लिम ने बयान किया है। कुछ रिवायतों में है कि जब नमाज़ खड़ी जो जाये तो फज्र कि सुन्नतें भी न पढ़े। हमारे यहाँ कुछ हजरात इस हदीस कि खुले तौर पर खिलाफवर्जी करते हैं और नमाज़ खड़ी होने के बाद भी सुन्नतें
पढ़ते रहते हैं।

(औनुलबारी, 1/720 )

(मुख़्तार सहीह बुख़ारी, सफ़ा न० 208)

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)।

1 COMMENT

  1. Kya ap bata sakte hai mujhe ki subah ke waqt 10 ke baad konsi namaz padhi jaati hai please uska naam or taarik a bataiye

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.