नमाज़ में किब्ला रुख खड़े होने की फजीलत

0
153
Eid Ke Aadab – Farman-e-Imam Muhammad Bin Muhammad Ghazali Shafai
namaz
Islamic Palace App

Namaz mein Kible ki rukh hone ki fazilat

Namaz mein Kible ki rukh hone ki fazilat

नमाज़ में किब्ला रुख खड़े होने की फजीलत

अनस बिन मालिक रज़ि से रिवायत है,

उन्होंने कहा कि रसूलुल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने फरमाया

जो हमारी नमाज़ की तरह मुंह कर और कर्बान किया हुआ जानवर खाये

तो वह ऐसा मुसलमान है जिसे अल्लाह और उसके रसूल सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की पनाह हासिल है।

फायदे:

नमाज़ के दौरान क़िब्ले की तरफ मुंह करना जरुरी है।

अलबत्ता मज़बूरी या डर की हालत में इसकी फरजियत ख़त्म हो जाती है इसी तरह नफ्ली नमाज़ में भी इसके मुतअल्लिक कुछ छूट है जबकि सवारी पर अदा की जा रही हो।

(औनुलबारी, 1/522)

(मुख़्तार सहीह बुख़ारी, सफ़ा न० 208 )

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.