नबी ﷺ ने फ़र्माया अगर तुम्हारी मौत इस हाल में आयी तो मैं तुम्हारे जनाज़े पर नमाज़ न पढ़ता : पढ़िए एक किस्सा

0
484
Duniya ke bare mein duniya chahne walon ka anjam
Makkah
Islamic Palace App

Hazrat fatima Raziallahuanhu ka ek kissa

Hazrat fatima Raziallahuanhu ka ek kissa

हज़रत फ़ात्मा (रज़ी०) का एक क़िस्सा

एक दफ़ा हज़रत फ़ात्मा (रज़ी०) घबरायी हुई हुज़ूर (स०) की खिदमत में आयीं।

हुज़ूर ने फरमाया, बेटी क्यों घबरायी हो ? अर्ज़ की – अब्बा जी , रात बातों ही बातों में मेरी ज़ुबान से कुछ ऐसी बातें निकल गयी

कि मेरे शोहर अली (अ०) नाराज़ हो गये।

उनकी नाराज़गी से मुझे अल्लाह का ख़ौफ़ मालूम हुआ कि शौहर की नाराज़गी अल्लाह की नाराज़गी है।

फिर मैंने उनसे माफ़ी माँगी।

वह मेरी ख़ुशामद देख कर हँस पड़े और मुझसे राज़ी हो गये। हुज़ूर ने फ़रमाया- ऐ बेटी !

उस खुदा की क़सम जिसने मुझको सच्चा रसूल बना कर भेजा है।

अगर तम्हारी मौत इस हाल में आयी कि तम्हारे शौहर अली (अ०) तुमसे नाराज़ होते तो मैं तुम्हारे जनाज़ें पर नमाज़ न पढ़ता।

ऐ मेरी नूरे-चशम! अगर कोई औरत परियम (अ०) की-सी इबादत करे

और उसका शौहर उससे नाराज़ हो तो अल्लाहतआला ऐसी औरत की इबादत क़बूल नहीं करता

और अल्लाहतआला उस औरत से खुश होता है जो अपने मर्द को खुश रखे और ग़ैर मर्दो से अपने को छुपाये।

फ़ायदा –

सुबहान अल्लाह! रहमते आलम आप की शाने अज़ीम कि हम ग़ुलामों को रहने_सहने

और बर्ताव करने के भी तरीक़े बतला गये। मियाँ-बीवी के इख़तलाफ और झगड़े मिटाने के क़ायदे भी सिखा गये। उजड़े हुए घर बसा गये।

(बाग़े-जन्नत यानी ख़ुदाई बाग़, सफ़ा न० 124 )

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.