नबी ﷺ ने फ़रमाया जुमे के दिन हैसियत के मुताबिक बेहतरीन लिबास पहने।

0
87
Jume ke din haisiyat ke mutabik behtareen libas pahenna
Namaz
Islamic Palace App

Jume ke din haisiyat ke mutabik behtareen libas pahenna

जुमे के दिन हैसियत के मुताबिक बेहतरीन लिबास पहने।

उम्र रज़ि. से रिवायत है कि उन्होंने मस्जिद के दरवाजे के पास एक रेशमी जोड़ा बिकते देखा तो अर्ज किया:

ऐ अल्लाह के रसूल (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम!) अगर आप इसे खरीद ले तो जुमे और कासिदों के आने के वक्त पहन लिया करें

इस पर रसूलुल्लाह (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) ने फरमाया,

इसे तो वह आदमी पहनेगा जिसका आखिरत में कोई हिस्सा न हो।

बाद में कहीं से इस तरह के रेशमी जोड़े रसूलुल्लाह (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) के पास आ गये,

जिनमें एक जोड़ा आपने उमर रज़ि. को भी दिया उन्होंने अर्ज किया,

ऐ अल्लाह के रसूल (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम!) आपने मुझे यह दिया,

हालंकि आप खुद ही इस लिबास के बारे में कुछ फरमा चुके है।

रसूलुल्लाह (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) ने फ़रमाया मैंने तुम्हें यह इसलिए नहीं दिया है कि इसे खुद पहनों,

चुनांचे उमर रज़ि. ने वह जोड़ा अपने मुशरिक भाई को पहना दिया जो मक्का मुकर्रमा में रहता था।

फायदे:

हदीस के उनवान (शुरुआत) से इस तरह मुतबेकत (बराबरी) है

कि हज़रत उमर रज़ि. ने रसूलुल्लाह (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) कि खिदमत में जुमे के दिन अच्छे कपड़े पहनने कि दरख्वास्त की।

रसूलुल्लाह (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) ने इसलिए रेशमी जोड़े को नापसन्द किया कि उसका इस्तेमाल मर्दों के लिए जाईज़ न था।

(मुख़्तसर सही बुखारी सफ़ा न० 379)

Follow Us

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)।

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace  को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.