जनाज़े के दफन में देर करना हुज़ूर(सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) के हुक्म के ख़िलाफ़ है

0
52
Know what every day the grave declares three times
grave
Islamic Palace App

Click here to Install Islamic Palace Android App Now

Hazrat Abu Huraira (Razi) says that the Messenger of Allah (sallallahu alaihi wasallam) said,
Take corpse early so that if the dead is good,
then you should bury him very soon so that he will go to the grave and find rest and peace,
and if he is not good,
then burden and body will be removed from your neck.

(Muslim and Bukhari)

This Hadith Sharif came to know that when someone dies,
very soon after reading the prayer of janaza and burying quickly after arranging the GUSL and shroud.
Nowadays, folk people let all the dead die all day and all night,
that they see this face,
let the flame come and see the mouth.
It is against the orders of Huzur (Sallahu alaihi wasallam).

(Baghe-Jannat Yaani Kudai Bagh, Safa no 304)


जनाज़े को जल्दी ले जाने का हुक्म

हज़रत अबूहरैरा(रज़ि०) से रिवायत है कि रसूल अल्लाह(सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) ने फ़रमाया कि-
जनाज़े को जल्दी ले जाया करो इसलिए कि अगर मुर्दा नेक है तो तुम उसको बहुत जल्दी दफ़न कर दो कि वह क़ब्र में जा कर आराम और चैन पायेगा और अगर वह नेक नहीं है तो तुम्हारी गर्दन से बोझ और शर दूर होगा।

(मुस्लिम व बुख़ारी)

फ़ायदा- इस हदीस शरीफ़ से मालूम हुआ कि जब कोई मर जाये तो बहुत जल्दी ग़ुस्ल और कफ़न का इन्तज़ाम करके नमाज़ जनाज़ा पढ़े और जल्दी से दफ़न कर दें। आजकल बाज़ लोग सारा-सारा दिन और सारी-सारी रात मरने वाले को पड़ा रहने देते हैं कि यह मुँह देख ले, वह मुँह देख ले। फ़लां आ जाये और मुँह देख ले। ग़रज़ बेजा देर करना हुज़ूर(सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) के हुक्म के ख़िलाफ़ है।

(बाग़े-जन्नत यानी खुदाई बाग़,सफ़ा न० 304)

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.