पढ़िए अल्लाह की क़ुदरत में से अंबर (whale) मछली की खूबियों के बारे में

0
228
the Amber Whale fish
Humpback Whale
Islamic Palace App

Click here to Install Islamic Palace Android App Now

The Amber Whale fish

The Amber Whale fish

There is a tremendous omen of Allah in the sea.

There are also many varieties of fish.

There is also a fish amber (whale) in it,

it is so big that it can easily swallow the whole person.

The fish’s stomach comes out of an aroma of Mommy, which is called Ambar,

from which precious medicines and perfumes are prepared,

when the Amber is born in the stomach, then it gives it (vomiting) it.

Then he starts swimming in the ocean floor in the shape of a foam.

The fishermen gather and store them in the market.

In the same way people take advantage of this precious thing.

And see the miracle of Allah’s nature, the time of the death of the fish is near,

then it comes out of the sea and comes to dryness.

And there his breath goes out.

In this way, without any problem, such a big fish itself becomes a victim and gives food to the people. This is nature of Allah.

(Sirf Panch Minute Ka Madarsa: Safa no 683)

Follow Us

Click here to like our Facebook page …

Thank you very much for all of you to like ISLAMIC PALACE. If you do not like it, then, to get rid of all the important issues related to this kind of oppression and Islam, definitely, please attach to this page the Islamic Palace, and send as many people as possible through share. thank you


Hindi Translation

अल्लाह की क़ुदरत : अंबर मछली

समुंदर में अल्लाह की बेशुमार मखलूक मौजूद हैं। मछलियों की भी बहूत सी किस्में हैं|

उन में एक मछली अंबर (whale) भी है, वह इतनी बड़ी होती है के आसानी से पुरे इन्सान को निगल सकती है।

इस मछली के पेट से एक खुशबूदार मोमियाई माद्दा निकलता है जिसे अंबर कहते हैं जिस से कीमती दवाइयां और इत्र वगैरा तैयार किया जाता है जब इस मछली के पेट में अंबर पैदा हो जाता है तो वह उसे कै (उल्टी) कर देती है।

फिर वह समुंदर के पानी पर झाग की शक्ल में तैरने लगता है।

मछेरे उसे जमा कर के बाज़ार में फ़रोख्त कर देते हैं।

इसी तरह लोग इस कीमती चीज़ से फ़ायदा उठाते हैं।

और अल्लाह की कुदरत का करिश्मा देखिये के जान उस मछली की मौत का वक़्त करीब अत है तो वह समुंदर से निकल कर खुश्की पर आ जाती है।

और वहां उस का दम निकलता है।

इस तरह बगैर किसी परेशानी के इतनी बड़ी मछली खुद शिकार बन कर लोगों को खोराक मुहय्या कर देती है यह अल्लाह की कितनी अज़ीम क़ुदरत है।

(सिर्फ पांच मिनट का मदरसा : सफ़ा न० 683)

Follow Us

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.