जानिए सफ़ा व मरवा के बारे में “इस्लामी तारीख”

0
183
Know about Safa and Marwa hills
Islamic Palace App

Click here to Install Islamic Palace Android App Now

Safa and Marwa:

Know about Safa and Marwa hills | Hazrat Hajra

Know about Safa and Marwa hills | Hazrat Hajra Safa and Marwa :

There are two hills in the extent of Safa and Marwa, Harm Sharif, which are the date mark of Hazrat Hajra.

Hazrat Hajra is the example of Mamta, Allah has ordered the people of Hazrat Hajra Safa

and Marwa Mountains to pay for every such Haji and Umraara.

Saudi government has arranged lighting and ear conditioning in Safa and Marwa.

Looking at the number of hajize kiram, the way above was made like a bridge.

For men, a blue tube has been installed in Dirimyan, where men have to speed up the running speed.

(Taarike Alam, Safa No. 52)

Follow Us

Click here to like our Facebook page …

Thank you very much for all of you to like ISLAMIC PALACE. If you do not like it, then, to get rid of all the important issues related to this kind of oppression and Islam, definitely, please attach to this page the Islamic Palace, and send as many people as possible through share. thank you


Hindi Translation

सफ़ा व मरवा :

सफ़ा और मरवा, हरम शरीफ़ के हद में दो पहाड़ियां है जो हज़रत हाजरा की तारीख़ी निशानी हैं।

हज़रत हाजरा की ममता की मिसाल है अल्लाह तआला को हज़रत हाजरा का सात मरतबा सफ़ा

और मरवा पहाड़ों तक दौड़ लगाने की अदा इतनी भाई की हर हाजी और उमरा करने वालों पर फ़र्ज़ कर दिया।

सऊदी हुकूमत ने सफ़ा व मरवा में लाइटिंग और इयर कन्डीशन का इंतिज़ाम किया है।

हुज्जाजे किराम की तादाद को देखते हुए ऊपर भी पुल की तरह रास्ता बनाया है।

मर्दों के लिए दर्मियान में नीले रंग की ट्यूब लगाई गई है जहां मर्दों को दौड़ने की रफ़्तार तेज़ करना पड़ती है।

(तारीखे आलम,सफ़ा न० 52)

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)।

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace  को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.