दुनिया ही में जहन्नम का मन्ज़र

3
69
Shab e Qadar Ki Dua
Makkah
Islamic Palace App

Click here to Install Islamic Palace Android App Now

Manzar of Hell In the world

Manzar of Hell In the world :

Every person who walks on the crooked path is said to have fulfilled his passion

and when every man comes to fulfill his zeal,

then it does not concern him that the other person’s juga is complete or broken,

To satisfy the passion, it breaks down the feelings of many.

Now the people who have lost their passion are also of this thought.

They are also bent on fulfilling their passion,

so there are such occasions that after the break of many people, a passion is completed.

And all those who have lost their emotions live in waiting,

if we have an opportunity, then we will fulfill our zeal.

So when one man completes his passion by breaking the people’s dreams,

Goya has made them their enemies.

Now they will all be together to worry about breaking the conscience and looking for the spot.

Now this path is a great way of confusion for the people.

In spite of that, there should be a country in his hand,

goods, rupees-money, gold-silver, factory, get clothes, living house is too big,

there is a lot of labor and bamboo, but in the world Inwardly,

he sees the hell of hell. She does not have any peace in between. It does not dry up

(Dawat and Tabligh, Safa No. 151)

Follow Us

Click here to like our Facebook page …

Thank you very much for all of you to like ISLAMIC PALACE. If you do not like it, then, to get rid of all the important issues related to this kind of oppression and Islam, definitely, please attach to this page the Islamic Palace, and send as many people as possible through share. thank you


दुनिया ही में जहन्नम का मन्ज़र

टेढ़े रास्ते पर चलने वाले हर आदमी का ज़ेहन यह होता है कि अपना जज़्बा पूरा हो जाए

और हर आदमी जब अपना जज़्बा पूरा करने पर आता है तो उसे इसकी फ़िक्र नहीं होती कि उससे दूसरे आदमी का जज़्बा पूरा हुआ या टुटा,

इस तरह वह अपना जज़्बा पूरा करने के लिए बहुत- सों के जज़्बों को तोड़ता है।

अब जिनके जज़्बे टूटे हैं वे भी इसी ख्याल के हैं

वे भी अपना जज़्बा पूरा करने पर तुले हुए हैं इसलिए बाज़ मौके ऐसे आते हैं कि बहुतों के जज़्बे टूटने के बाद एक जज़्बा पूरा होता है।

और जिन-जिनके जज़्बे टूटे हैं वे सब इन्तिज़ार में रहते हैं कि अगर हमारा मौका आयेगा तो हम मिलकर अपना जज़्बा पूरा करेंगे।

तो जब को लोगों के जज़्बे तोड़कर एक आदमी अपना जज़्बा पूरा करता है तो गोया उसने जितनों के जज्बे तोड़े उनको अपना दुश्मन बना लिया।

अब वे सारे मिलकर इसका जज़्बा तोड़ने कि फ़िक्र में रहेंगे और मौके की तलाश में रहेंगे।

अब यह रास्ता इनसान के लिए बड़ी उलझन का रास्ता है।

इसके बावजूद कि उसके हाथ में मुल्क हो, माल हो, रूपये-पैसा हो, सोना-चांदी हो, कारखाना हो, कपड़े का मिल हो, रहने का मकान भी बहुत बड़ा हो, उसके पास मजमा और जत्था भी ज़्यादा हो,

लेकिन दुनिया के अन्दर ही उसे जहन्नम का मन्ज़र दिखाई देता है।

अन्दर से उसे चैन नहीं होता। उसे सुकून नहीं होता।

(दावत व तब्लीग, सफा न० 151)

Follow Us

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)।

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace  को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया

3 COMMENTS

  1. I do agree with all the concepts you have offered on your post.
    They’re very convincing and will certainly work. Nonetheless,
    the posts are very brief for beginners. Could you please extend them a bit from subsequent time?
    Thanks for the post.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.