दुनिया और आख़िरत दोनों जगह राहत ही राहत

0
81
Sone Chandi ke bartanon se kaun mehroom rahenge?
Makkah
Islamic Palace App

Click here to Install Islamic Palace Android App Now

Relief in the Both Place world and Aakhirat

Relief in the Both Place world and Aakhirat : In comparison, the person who is directly involved in the path, he is also persecuted.

Tests come, come to Imtihan,

but these difficulties, these difficulties and these trials come from Allah to increase their spiritual strength.

In those mujahadas and trials,

his faith increases even more and the stronger the faith is,

the more the Allah’s intercession becomes more and more with him.

The help of Allah becomes as much as possible with him.

Then relief is relief for both the world and the last.

(Dawat and Tabligh, Safa No. 151)

Follow Us

Click here to like our Facebook page …

Thank you very much for all of you to like ISLAMIC PALACE. If you do not like it, then, to get rid of all the important issues related to this kind of oppression and Islam, definitely, please attach to this page the Islamic Palace, and send as many people as possible through share. thank you


दुनिया और आख़िरत दोनों जगह राहत ही राहत

उसके मुकाबले में जो आदमी सीधे रास्ते पर अमल करने वाला होता है,

उसको भी मुजाहदे पेश आते हैं।

आज़माईशें आती हैं, इम्तिहानात आते हैं,

लेकिन ये मुजाहदे, ये तकलीफें और ये आज़माइशें अल्लाह की तरफ से उसकी रूहानी ताक़त को बढ़ाने के लिए आती हैं।

उन मुजाहादों व आज़माईशों के अन्दर उसका ईमान और ज़्यादा बढ़ जाता है और ईमान जितना ताक़तवर होता है,

अल्लाह की हिमायत उतनी ही उसके साथ ज़्यादा हो जाती है।

अल्लाह की मदद उतनी ही उसके साथ ज़्यादा हो जाती है।

फिर तो उसके लिए दुनिया व आख़िरत दोनों जगह राहत ही राहत है।

(दावत व तब्लीग, सफा न० 151)

Follow Us

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)।

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace  को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.