एक फ़र्ज़ की बारे में वालिदैन की साथ अच्छा बर्ताब करना

0
63
Behave well with Parents is farz in Islam
Islamic Palace App

Click here to Install Islamic Palace Android App Now

Behave well with Parents is farz in Islam

Behave well with Parents is farz in Islam

एक फ़र्ज़ की बारे में वालिदैन के साथ अच्छा बर्ताब करना

कुरआन में अल्लाह तआला फ़र्माता है: “वालिदैन की साथ अच्छाई सुलूक करो।”

(सुर-ए-बनी इसराईल: 23)

फायदा:

वालिदैन कितनी मेहनत व मशक़्क़त से बच्चों की पर्वरिश करते हैं,

इस लिए वालिदैन की साथ अच्छाई का मामला करना

और उन की ज़रुरियात को अपनी ताकत और हैसियत की मुताबिक पूरी करना जरुरी है।

(सिर्फ पांच मिनट का मदरसा, सफ़ा न० 433)

Follow Us

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)।

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace  को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया


Hindi Translation

About a Farz : Behave well with Parents is farz in Islam

In Qur’an, Allah say : “Behave well with Parents.”

(Sur-e-Bani Israel: 23)

Advantage:

Parents encourages children with so much hard work and skill,

so it is important to make a case of goodness with Parents

and fulfill their requirement according to their strength and status.

(Only five minutes of Madarsa, Page no 433)

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.