जानिए ज़ियादती करने वाले गरोह के लिए क़ुरआन की नसीहत क्या है

0
85
Janiye Quran Ka Hafiz Jise Yaad Bhi Khub Ho Aur Padhta Bhi Achcha Ho
quran sharif
Islamic Palace App

Click here to Install Islamic Palace Android App Now

Know what the Quran teaches for the Giant gang

Know what the Quran teaches for the Giant gang

कुरआन की नसीहत

कुरआन में अल्लाह तआला फ़र्माते हैं:

अगर मुसलमानों के दो गिरोह आपस में लड़ पड़ें तो उन दोनों के दर्मियान सुलह व सफाई करा दिया करो,

फिर अगर उन गिरोह दूसरे पर ज़ियादती करे

तो ज़ियादती करने वाले गिरोह से लड़ो यहां तक के वह अल्लाह के हुक्म की तरफ लौट आए,

फिर अगर वह ज़ियादतो करने वाला रुजूअ कर ले तो,

उन दोनों के दर्मियान इन्साफ के साथ सुलह करा दो,

और इन्साफ करते रहा करो,

बेशक अल्लाह तआला इन्साफ करने वालों को पसंद करता है।

(सुर-ए-हुजरात:1)

(सिर्फ पांच मिनट का मदरसा, सफ़ा न० 378)

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)।

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace  को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया


English Translation

Know what the Quran teaches for the Giant gang

Quranic teachings

Allah says in the Quran: If two gangs of Muslims are fighting each other, then reconcile them and clean them, then if those gangs persist on others, fight with the criminals who are committed to it, so do the orders of Allah. Then if he is able to do so, then reconcile with them both of them, and keep on doing justice, surely Allah will do justice to you. Loves it.

(Sur-e-Hazrat: 1)

(Sirf Panch Minute Ka Madarsa, Page no. 378)

Click here to like our Facebook page …

Thank you very much for all of you to like ISLAMIC PALACE. If you do not like it, then, to get rid of all the important issues related to this kind of oppression and Islam, definitely, please attach to this page the Islamic Palace, and send as many people as possible through share. thank you

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.