इन्सान को मरते वक़्त शैतान इस तरह देगा धोका

0
93
Jis Shakhs Ki Maut Is Haal Mein Aaye To Janiye Allah Taala Usse Kya Farmaya
myyat
Islamic Palace App

Click here to Install Islamic Palace Android App Now

Cheat of Shaitan at Time Of dying

Cheat of Shaitan at Time Of dying

मरने के वक़्त शैतान का धोखा

अज़ हज़रत इमाम ग़ज़ाली (रह०) ने फ़रमाया कि-

मरने के वक़्त मरने वालो को ऐसी प्यास लगती है कि मरने वाला बहुत बेचैन हो जाता है।

शैतान पानी का एक भरा हुआ प्याला उसको दिखाता है।

वह उससे पानी माँगता है। शैतान कहता है कि पहले यह कह दे कि तू खुदा है, तेरे सिवा कोई खुदा नहीं है।

बस जिस आदमी ने अल्लाहतआला को नहीं पहचाना

और उसके हुक्मों को नहीं माना वह कह देता है

और जिसने अल्लाह को पहचाना और उसके हुक्मों को माना वह पहचान लेता है

कि यह शैतान है और नहीं कहता और अपने ईमान पर साबित रहता है।

(बाग़े-जन्नत यानी ख़ुदाई बाग़, सफ़ा न० 285)

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)।

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace  को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया


English Translation

Cheat of Shaitan at Time Of dying

Az Hazrat Imam Ghazali (razi) said-

At the time of death, those who die are like a thirsty person that becomes very restless to die.

Shaitan Show A filled bowl of water to him and death person asks for water from him.

Satan says that before you say that you are God, there is no god except you.

The person who did not recognize Allah Taala and did not recognize his commandments, says it “YES”,

and whoever recognizes Allah and recognizes his commandments,

he recognizes that this is a devil and does not say and remains proven on his faith.

(Baghe-paradise i.e. Khudai Bagh, Page no 285)

Click here to like our Facebook page …

Thank you very much for all of you to like ISLAMIC PALACE. If you do not like it, then, to get rid of all the important issues related to this kind of oppression and Islam, definitely, please attach to this page the Islamic Palace, and send as many people as possible through share. thank you

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.