जानिए जन्नत कहाँ पर है और उसके ऊपर कितने तले हैं

0
86
Know where the heaven is and how many layers are there on it
jannat
Islamic Palace App

Click here to Install Islamic Palace Android App Now

Know where the heaven is and how many layers are there on it

Know where the heaven is and how many layers are there on it

जन्नत कहाँ पर है 

जन्नत आसमान पर है और उसके ऊपर-तले आठ दर्ज हैं और आठ ही दरवाज़े हैं यानी आठ जन्नतें हैं।

इसकी खूबियाँ अक़्ल से बहार हैं। जो अल्लाह का प्यारा इसमें दाख़िल हो गया फिर कभी निकला न जायेगा।

रहमते आलम हज़ूर (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) फ़रमाते हैं

कि अल्लाहतआला ने अपने ताबेदार बन्दों के लिए जन्नत में ऐसी नेमतें तैयार कर रखी है कि न किसी आँख ने देखी और न किसी कान ने सुनीं,

न किसी आदमी के दिल में उनका ख़याल गुज़रा।

फ़रिश्ता ऐलान करेगा कि ऐ जन्नतियों! तुम्हारे लिए यह बात मुक़र्रर हो चुकी है कि तुम हमेशा तन्दुरुस्त और जवान ही रहोगे।

कभी बूढ़े और कमज़ोर न होगे और न कभी मरोगे। हमेशा आराम से रहोगे, कभी कोई तकलीफ़ न देखोगे।

(मुस्लिम शरीफ़)

(बाग़े-जन्नत यानी ख़ुदाई बाग़, सफ़ा न० 55)

Follow Us

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)।

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace  को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया


English Translation

Know where the heaven is and how many layers are there on it

The heavens are on the skies and there are eight records in it and eight are the doors,

that is, there are eight heavens. Its features are out of focus.

The beloved of Allah, who has entered it, will never come out.

Prophet (Sallallahu Alaihi Wasallam) says that

Allah tala has prepared such principles in the heavens for his forefathers that no eye was seen or no ear heard,

neither did he think of any man in his heart.

The angel will declare that the jannates! It is a matter of fact that you will always be healthy and young.

Never be old and weak and will never die. Always be comfortable, never see any problem.

(Muslim Sharif)

(Baghe-Jannat i.e. Khudai Bagh: Page No 55)

Follow Us

Click here to like our Facebook page …

Thank you very much for all of you to like ISLAMIC PALACE. If you do not like it, then, to get rid of all the important issues related to this kind of oppression and Islam, definitely, please attach to this page the Islamic Palace, and send as many people as possible through share. thank you

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.