मोमिन के मरने के बाद जिन अमाल का सवाब उसको मिलता रहता है जानिए वो कौन-कौनसे हैं

0
388
Momin Ke Marne Ke Baad Jin Aamal Ka Sawab Usko Milta Rahta Hai
quran
Islamic Palace App

Click here to Install Islamic Palace Android App Now

Momin Ke Marne Ke Baad Jin Aamal Ka Sawab Usko Milta Rahta Hai

मोमिन के मरने के बाद जिन अमाल का सवाब उसको मिलता रहता है जानिए वो कौन-कौनसे हैं

हज़रत अबू हुरैरह रज़ि. फरमाते हैं कि रसूलुल्लाह (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) ने इरशाद फ़रमाया

मोमिन के मरने के बाद जिन अमाल का सवाब उसको मिलता रहता है,

उनमें एक तो इल्म है जो किसी को सिखाया और फैलाया हो,

दूसरा सालेह औलाद है जिसको छोड़ हो।

तीसरा क़ुरआन शरीफ़ है,

जो मीरास में छोड़ गया हो,

चौथा मस्जिद है, जो बना गया हो,

पांचवां मुसाफिरखाना है जिसको उसने जारी किया हो,

सांतवां वह सदक़ा है जिसको अपनी ज़िन्दगी और सेहत में इस तरह दे गया हो कि मरने के बाद उसका सवाब मिलता रहे

(मसलन वक़्त कि शक्ल में सदक़ा कर गया हो)।

(इब्ने माजा)
(मुन्तख़ब अहादीस, सफ़ा न 374

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)।

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace  को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया)

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.