किसी मुसलमान के लिए ये हलाल नहीं के वो अपने भाई से तीन (3) दिन से ज़्यादा नाराज़ रहे जानिए हदीस पढ़ कर

0
113
Jo Log Kasrat se masjidon mein jama rehte hain
masjid
Islamic Palace App

Kisi Musalman Ke Liye Ye Halaal Nahi Ke Wo Apne Bhai Se Tin Din Se Zyada Naraz Rahe

किसी मुसलमान के लिए ये हलाल नहीं के वो अपने भाई से तीन (3) दिन से ज़्यादा नाराज़ रहे

हज़रत आइशा रज़ियल्लाहु अन्हा से रिवायत है

कि रसूलुल्लाह (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) ने इरशाद फ़रमाया:

किसी मुसलमान के लिए दुरुस्त नहीं कि अपने भाई (से कताताल्लुक़ी करके) उसे तीन दिन से ज़्यादा छोड़े रखे,

लिहाजा जब उससे मुलाक़ात हो तो तीन मर्तबा उसको सलाम करे,

अगर वह मर्तबा भी सलाम का जवाब न दे तो

सलाम करने वाले का (तीन दिन कताताल्लुक़ी का) गुनाह भी सलाम का जवाब न देने वाले के ज़िम्मे हो गया।

(अबूदाऊद)

(मुन्तख़ब अहादीस, सफ़ा न 549)

Follow Us

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)।

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace  को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.