अह्ले कुरैश का दूसरा वफ़्द अबू तालिब के पास:

0
150
Ahle Quraish ka dusra wafad Abu talib ke paas
MADINA MUNAWARA
Islamic Palace App

Ahle Quraish ka dusra wafad Abu talib ke paas

अह्ले कुरैश का दूसरा वफ़्द अबू तालिब के पास:

कुफ़्फ़ारे कुरैश के और कुछ समझदार और सुलह पसन्द लोग थे।

आपस में मश्वरा करके बड़े-बड़े रूउसा,

उमरा आप (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम)

के चचा हज़रत अबू तालिब के पास आए

और आप (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम)

की शिकायत की कि आपका भतीजा हमारे माबूद की तौहीन करता है

और बुतपरस्ती से रोकता है।

उसे आप समझाए या आप हमारे दर्मियान में न आए

ताकि दोनों तरफ़ में से किसी एक तरफ़ फ़ैसला हो जाए।

चुनांचे अबू तालिब ने हुज़ूरे अकरम (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) को समझाया।

“मेरे प्यारे भतीजे! अपने बूढ़े चचा पर रहम कर।

तमाम अह्ले कुरैश मेरा एहतराम करते हैं।

मगर अब उनके तेवर बदल गये हैं

वह तुम पर तल्वार भी उठा सकते हैं।

मेरी मानो तो कुछ दिन के लिए दावते इस्लाम को मौक़ूफ़ रखो।”

हज़रत अबू तालिब बातिनी तौर पर आप (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) के साथ थे

इसलिए उन्होंने नर्मी से समझाया।

मगर हुज़ूर पाक (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) ने भर्राई हुई आवाज़ में कहा

“चचा जान! अल्लाह की क़सम! अगर कुरैश मेरे एक हाथ में सूरज और दूसरे हाथ में चांद भी रख दे

तो भी मैं इस फ़र्ज़ से बाज़ न आऊंगा या तो खुदा इस काम को खुद पूरा करेगा

या मैं खुद दीन की ख़ातिर अपनी जान दे दूंगा।

” यह अल्फ़ाज़ सुन कर अबू तालिब बेहद मुतअस्सिर हुए

और कहा जाने अम! मैं तुम्हारे साथ हूं जब तक मैं ज़िन्दा हूं तुम्हे कोई भी नुक़्सान नहीं पहुंचा सकता।

(तारीख़े आलम, सफ़ा न० 120)

Follow us

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)।

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace  को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.