जानिए क़यामत और पुलसरात क्या चीज़ है?

1
278
Qayamat or pulsirat kya cheez hai?
quran
Islamic Palace App

Click here to Install Islamic Palace Android App Now

Qayamat or pulsirat kya cheez hai?

क़यामत

जब अल्लाह हर ज़िन्दा चीज़ पे मौत तारी करने का हुक्म देगा,

अल्लाह अपने फ़रिश्ते इसराफ़ील अलैहिस्सलाम से सूर फूकने को कहेगा,

सूर को पहली मर्तबा फूकने पर ज़मीनो-आसमान की हर चीज़ तबाह हो जाएगी,

हर मखलूक़ मौत के घाट उतर जाएगी, सिवाय उनके जिन्हे अल्लाह हलाक न करना चाहे,

और फिर जब अल्लाह ताला को मन्ज़ूर होगा, कि तमाम मख़लूक़ फिर ज़िन्दा हो,

अल्लाह फिर सूर फूकने का हुक्म देगा, जिसकी आवाज़ से तमाम मख़लूक़ फिर ज़िन्दा हो जाएगी,

तमाम लोगों को हशर के मैदान में लाया जाएगा, सूरज बहुत क़रीब कर दिया जाएगा,

उसकी गर्मी से दिमाग़ हंडिया की माफ़िक़ पकने लगेंगे, ये बड़ा ही हौलनाक दिन होगा,

तमाम इन्सान अपने मालिके-हक़ीक़ी के सामने अपना अपना फ़ैसला सुनने को खड़े होंगे

पुलसरात

दोज़ख़् के ऊपर पुल है, जो बाल से ज़्यादा बारीक,

और तलवार से ज़्यादा तेज़ है, इस पर चलना पड़ेगा, जिन लोगों ने अल्लाह

और उसके रसूल की ताबेदारी की होगी, वो बिजली की तरह उससे पार होकर जन्नत में दाख़िल हो जाएँगे,

और जो लोग अल्लाह और उसके रसूल के ना फ़रमान होंगे, कट कर दोज़ख़् में गिर पड़ेंगे,

ऐ अल्लाह अपने महबूब मुहम्मद मुस्तफ़ा सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम के सदक़े तुफैल में तू हमारी अज़ाबे-क़ब्र, अज़ाबे-हॅशर और जहन्नुम की आग से हिफ़ाज़त फ़रमा

आमीन!

साभार तीसरी जंग

Follow Us

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)।

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया

1 COMMENT

  1. Gߋod post. I learn something totaⅼly new and chalⅼenging on blogs I stumbleupon everyday.
    It’s always helpful to read content from other аuthors and practіce a littlе ѕomething from their
    websites.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.