असर से पहले चार रकअत पढ़ने की फ़ज़ीलत

0
134
ASR SE PAHLE CHAR RAKAT PADHNE KI FAZILAT
namaz
Islamic Palace App

ASR SE PAHLE CHAR RAKAT PADHNE KI FAZILAT

असर से पहले चार रकअत पढ़ने की फ़ज़ीलत

रसूल अल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने फ़रमाया:

‘जो शक़्स असर से पहले 4 रकत (सुन्नत) पढ़े, अल्लाह इस पर रहमत करे.’

(तिर्मिज़ी: अल सलाह 430 – अबू दावूद: अबवाब अल तत्वों 1271)

इसे इमाम इब्ने खुजैमा, इमाम इब्ने हिब्बान और इमाम नव्वी ने सहीह कहा.

नमाज़ असर से पहले चार रकअत (सुन्नत) नमाज़ अदा करने वाला शख्स रसूल अल्लाह (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) की दुआ अपने हिस्से में समेटना है

और नबी (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) का अमल मुबारक भी यही था की आप असर की फ़र्ज़ नमाज़ से पहले चार रकअत (दो-दो कर के) अदा फरमाते:

अली (r.a.) से रिवायत है रसूल अल्लाह (सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम) असर से पहले 4 रकअत पढ़ते थे और 2 रकअत के बाद तस्शाहद और दुआ पढ़ कर सलाम फेरते थे.

(तिर्मिज़ी: 429) इमाम तिर्मिज़ी ने हसन कहा.)

Follow Us

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें…

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)।

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace  को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया

LEAVE A REPLY