अगर जिस शख़्स पर क़ुरबानी करना वाजिब हो और वो क़ुरबानी के दिनों में क़ुरबानी न कर सके तो उसका क्या हुक़्म है?

1
330
Agar Jis Shakhsh Par Qurbani Karna Waajib Ho Aur Wo Qurbani Ke Dino Me Qurbani Na Kar Sake To Uska Kya Hukm Hai?
masjid
Islamic Palace App

Agar Jis Shakhsh Par Qurbani Karna Waajib Ho Aur Wo Qurbani Ke Dino Me Qurbani Na Kar Sake To Uska Kya Hukm Hai?

सवालात-ए-क़ुरबानी

रात में क़ुरबानी करना कैसा है?

अगर रौशनी का पूरा इंतिज़ाम हो, के गलती का कोई अंदेशा बाक़ी न रहे,

तो रात में भी क़ुरबानी करना जाइज़ है कोई हरज़ नहीं है।

(वल्लाहु आलम)

(फ़ज़ाइल-मसाइल-ए-क़ुरबानी-52)

अगर जिस शख़्स पर क़ुरबानी करना वाजिब हो और वो क़ुरबानी के दिनों में क़ुरबानी न कर सके

तो उसका क्या हुक़्म है?

अगर माल दार शख़्स क़ुरबानी के दिनों में क़ुरबानी नहीं कर सका

तो अब उसके ज़िम्मे एक पूरा ज़िंदह जानवर सदक़ा करदे, या उसकी क़ीमत सदक़ा कर दे।

(वल्लाहु आलम)

(फ़ज़ाइल-मसाइल-ए-क़ुरबानी-53)


Read More

तवाफ़-ए-ज़ियारत का तरीक़ा क्या है?

कुरबानी के जानवरों में कितने आदमी शरीक हो सकते हैं?


Follow Us

हमारा फेसबुक पेज लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें

अल्लाह तआला रब्बुल अज़ीम हम सब मुसलमान भाइयों को कहने, सुनने और सिर्फ पढ़ने से ज्यादा अमल करने की तौफीक अता फ़रमाये और हमारे रसूल  नबी ए करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम की बताई हुई सुन्नतों और उनके बताये हुए रास्ते पर हम सबको चलने की तौफीक अता फ़रमाये (आमीन)।

ISLAMIC PALACE को लाइक करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया। जिन्होंने लाइक नहीं किया तो वह इसी तरह की दीन और इस्लाम से जुड़ी हर अहम बातों से रूबरू होने के लिए हमारे इस पेज Islamic Palace को ज़रूर लाइक करें, और ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को शेयर के ज़रिये पहुंचाए। शुक्रिया


For More Msgs Click This Link
www.islamicpalace.in

बराये करम इस पैग़ाम को शेयर कीजिये अल्लाह आपको इसका अजरअज़ीम ज़रूर देगा
आमीन

  ►जज़ाकअल्लाह खैरन◄

PLEASE SHARE